साकची गोल चक्कर से पुरानी किताब गोल चक्कर तक रहा मस्ती का समां।

साकची में रविवार को जैम स्ट्रीट का आयोजन हुआ। इसमें मौज-मस्ती के दीवानों का हुजूम रहा। हम पुरानी किताब दुकान गोल चक्कर की तरफ से जैम स्ट्रीट में दाखिल हुए तो सबसे पहले घुड़सवारी के दर्शन किए। घुड़सवार घोड़े दौड़ा रहे थे। घुड़सवारी के लिए सड़क पर ही छोटा बाड़ा बनाया गया था। उसके आगे आर्केस्ट्रा था। यहां युवाओं की भीड़ अधिक थी। आर्केस्ट्रा की धुन पर थिरकते युवा फुल मस्ती कर रहे थे। इसके आगे खाने-पीने के स्टाल थे। जहां केक, मोमोज, पिज़्ज़ा और सैंडविच लेकर सुबह-सुबह अपना टेस्ट बदलने वालों की लाइन लगी थी।इसके बाद विभिन्न प्रकार के खेल का आनंद उठाने वाले लोगों का हुजूम था। कोई स्केटिंग कर रहा था तो कोई फुटबॉल खेलने में मस्त था। जैम स्ट्रीट घूमने आए युवा मुक्केबाजी का भी मजा ले रहे थे। कई जोड़े एक दूसरे पर मुक्के चला रहे थे। रस्सी पर चलना और दीवारों पर चढ़ने जैसे खेल का लुत्फ लेने के लिए बच्चों की लाइन लगी थी। यहां पेंटिंग प्रतियोगिता भी चल रही थी। इसमें बहुत से बच्चे अपनी कला को आर्ट शीट पर उकेर रहे थेब्लड शुगर और बीपी चेक करने का स्टाल रोटरेक्ट क्लब ने लगाया था। यहां भी लंबी लाइन थी। कुछ लोग स्टाल लगाकर योगा कर रहे थे तो कुछ अपनी एक्यूप्रेशर तकनीक से लोगों के बदन दर्द को दूर करने में मशगूल थे।सुबह 6:00 बजे से शुरू हुआ जैम स्ट्रीट का आयोजन ढाई घंटे बाद 8:30 बजे खत्म हो गया। जैम स्ट्रीट का आयोजन टाटा स्टील यूटिलिटीज इंफ्रास्ट्रक्चर सर्विसेज लिमिटेड की तरफ से किया गया था। साकची और आसपास से आए लोगों ने इसका भरपूर लुत्फ उठाया।

जमशेदपुर रजक समाज की ओर से जुगसलाई शाखा और पूर्णिमा नेत्रालय के संयुक्त प्रयास से जुगसलाई एम ई स्कूल रोड स्थित सामुदायिक भवन में निशुल्क नेत्र जांच शिविर का आयोजन किया गया जहां नेत्र रोगियों ने बढ़-चढ़कर इस शिविर में हिस्सा लेकर अपने नेत्रों की जांच करवाई।

जमशेदपुर रजक समाज के जुगसलाई शाखा द्वारा समय-समय पर समाज हित के लिए कई कार्य किए जाते हैं इसी क्रम में निशुल्क नेत्र जांच शिविर का आयोजन एम ई स्कूल रोड स्थित सामुदायिक भवन में किया गया जिसमें केवल जुगसलाई ही नहीं बल्कि बागबेड़ा,परसुडीह क्षेत्रों से नेत्र रोगी शामिल होकर अपने-अपने नेत्रों की जांच करवाई, जानकारी देते हुए जुगसलाई शाखा के अध्यक्ष गोपाल प्रसाद ने कहा कि निशुल्क नेत्र जांच शिविर लगाकर नेत्र रोगियों को राहत पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है जहां मोतियाबिंद से पीड़ित रोगियों का निशुल्क ऑपरेशन भी किया जाएगा पूर्णिमा नेत्रालय के सहयोग से अगले दिन अस्पताल से गाड़ी आएगी जो रोगियों को अपने साथ लेकर जाएगी और ऑपरेशन कर उन्हें वापस सामुदायिक भवन छोड़ दिया जाएगा साथ ही उन्होंने बताया कि लगातार इस तरह के शिविर का आयोजन शहर के विभिन्न क्षेत्रों में किया जा रहा है

डॉक्टर अंबेडकर एससी एसटी ओबीसी माइनॉरिटी वेलफेयर समिति के द्वारा साकची अंबेडकर चौक पर भारत के संविधान रचयिता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा का अनावरण के कार्यक्रम का आयोजन किया गया जहां इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता शामिल हुए।

बाजे गाजे के साथ डॉक्टर अंबेडकर एससी एसटी ओबीसी माइनॉरिटी वेलफेयर समिति के द्वारा अतिथियों का भव्य स्वागत किया गया जहां मुख्य अतिथि के तौर पर कार्यक्रम में शामिल हुए राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने प्रतिमा का अनावरण किया वहीं उन्होंने अनावरण के कार्यक्रम में लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि डॉक्टर भीमराव अंबेडकर ने हमेशा शोषित पीड़ित गरीब लोगों की आवाज को बुलंद की है अंतिम व्यक्ति तक के साथ वे हमेशा खड़े रहे आज भारत देश का जो संविधान है उसके रचयिता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के बताए मार्ग पर चलने की जरूरत है, उन्होंने कहा कि बाबा भीमराव अंबेडकर की देन है आईपीसी सीआरपीसी जैसे मजबूत संविधान, उनके राह पर चलने का प्रण लेना ही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!