बकाये वेतन की मांग को लेकर होमगार्ड के जवानों ने उपायुक्त कार्यालय पहुंचे ।

बकाये वेतन की मांग को लेकर होमगार्ड के जवानों ने उपायुक्त कार्यालय पहुंच उपायुक्त से मुलाकात की और अपनी समस्याओं से उन्हें अवगत कराया जहां उपायुक्त ने जल्द से जल्द वेतन भुगतान का आश्वासन दिया

जमशेदपुर के एम जी एम अस्पताल में तैनात 90 महिला पुरूष होमगार्ड के जवान को 3 महीने से और सदर अस्पताल में तैनात 45 महिला पुरुष होमगार्ड के जवानों को विगत 6 महीने से वेतन नहीं मिला है जिसकी वजह से उनके समक्ष भुखमरी की स्थिति उत्पन्न हो गई है ऐसे में उन्हें घर चलाना मुश्किल हो गया है साथ ही बच्चों का शिक्षा दीक्षा भी प्रभावित हो रहा है इसे लेकर होमगार्ड के जवानों ने उपायुक्त कार्यालय पहुंच कर अपनी पीड़ा से उन्हें अवगत कराया जहां उनके द्वारा आश्वासन दिया गया है कि बहुत जल्द उनके बकाए वेतन का भुगतान कर दिया जाएगा

जमशेदपुर के बागबेड़ा थाना अंतर्गत गराबासा में रेलवे के ई डब्लू डिपार्टमेंट के द्वारा रेलवे की ज़मीन पर अतिक्रमण अभियान चलाया गया जहां इस अभियान के दौरान आरपीएफ के जवानों को भारी विरोध का सामना करना पड़ा धक्का मुक्की के बीच में रेलवे ने निर्माणाधीन दो घरों को ध्वस्त कर दिया

बागबेड़ा के गराबासा निवासी सुरेंद्र यादव और ललन गुप्ता रेलवे की जमीन पर मकान बना रहे थे, इन्हें कई बार रेलवे के आई डब्लू डिपार्टमेंट के द्वारा नोटिस दिया गया नोटिस के आलोक में कार्रवाई करते हुए आई डब्लू डिपार्टमेंट के द्वारा उनके घरों पर बुलडोजर चलाया गया, इस दौरान बड़ी संख्या में आर पी एफ के महिला पुलिस जवान मौजूद थे जहां इन्हें स्थानीय लोगो का विरोध सहना पड़ा, स्थानीय लोग अतिक्रमण का विरोध करते हुए आर पी एफ के पदाधिकारी व जवान के साथ धक्का मुक्की करने लगे, विरोध के बीच दोनों घरों को ध्वस्त कर दिया गया, जानकारी देते हुए ललन गुप्ता ने बताया कि पूरा क्षेत्र रेलवे की जमीन पर बसा हुआ है लोग धड़ल्ले से घर बना ले रहे हैं उनका घर चु रहा था जिसकी वजह से वो अपने घर का ढलाई कर रहे थे पर रेलवे द्वारा उनके घर को तोड़ दिया गया, उन्होंने कहा कि किसी तरह से ठेला चला कर वे अपने परिवार का भरण पोषण कर रहे थे आज सड़क पर आ गए

दूसरी तरफ रेलवे द्वारा अन्य लोगों को भी चेतावनी दी गई है कि खाली रेलवे की जमीन पर अतिक्रमण न करें अन्यथा उन पर भी कार्रवाई की जाएगी,पर इस संबंध में रेलवे के आई डब्ल्यू डिपार्टमेंट और आर पी एफ के द्वारा किसी तरह का कोई बयान नहीं दिया गया

बुधवार को हिरासत में लिए गए जेबीकेएसएस नेता प्रेम मार्डी एवं हथियाडीह के ग्रामीणों की रिहाई की मांग को लेकर गुरुवार को हजारों की संख्या में जेबीकेएसएस के कार्यकर्ता और हथियाडीह के ग्रामीण सड़क पर उतरे और पदयात्रा करते हुए आदित्यपुर थाने की ओर कूच किया. वैसे इन्हें रोकने के लिए सैकड़ों की संख्या में पुलिस कर्मियों एवं दर्जनों अधिकारियों की तैनाती की गई थी, मगर ग्रामीणों के जोश के आगे वे नतमस्तक नजर आए. सभी अपनी गिरफ्तारी देने जा रहे हैं. विदित हो कि हाल के दिनों में हथियाडीह में जियाडा द्वारा अधिग्रहित जमीन पर कई कंपनियां निर्माधीन हैं. इनमें से जमना ऑटो और नेताजी सुभाष मेडिकल कॉलेज अस्पताल का निर्माण कार्य भी हो रहा है. जिसको लेकर ग्रामीण लगातार विरोध कर रहे हैं. कई दौर के वार्ता के बाद भी ग्रामीणों का विरोध जारी है. इधर तीन- चार दिनों से ग्रामीणों ने हिंसक रुख अख्तियार कर लिया था. दो दिन पूर्व महिला के साथ छेड़खानी का आरोप लगाते हुए ग्रामीणों ने निर्माणाधीन नेताजी सुभाष मेडिकल कॉलेज अस्पताल परिसर में घुसकर गार्ड की बेरहमी से पिटाई कर डाली थी. यहां झारखंडी भाषा खतियान संघर्ष समिति के नेता प्रेम मार्डी और तरुण महतो ने लीड किया था. इससे पूर्व जमना ऑटो के विरोध में भी उक्त नेताओं ने ग्रामीणों को भड़काया और कंपनी का विरोध किया था. हालांकि प्रशासन ने इस दौरान काफी संयम बरता और ग्रामीणों की सभी मांगो को पूरा कराया, मगर पिछले तीन- चार दिनों से ग्रामीणों ने हिंसात्मक रुख अपना लिया. इस वजह से प्रशासन ने सख्त रूप अपनाया और बुधवार को 10 महिला एवं 11 पुरुष ग्रामीणों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया. वहीं झारखंडी भाषा खतियान संघर्ष समिति के नेता प्रेम मार्डी को नाटकीय ढंग से देर रात पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, जबकि तरुण महतो अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है. उधर प्रेम मार्डी की गिरफ्तारी के बाद से ही जेबीकेएसएस के कार्यकर्ता आक्रोशित हैं और बुधवार देर रात जहां सरायकेला की सड़कों पर मंत्री चंपाई सोरेन और जिला प्रशासन का पुतला दहन कर सरकार और मंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. वहीं गुरुवार को ग्रामीणों और जेबीकेएसएस नेताओं की रिहाई की मांग को लेकर सड़क पर उतर गए हैं.

22 जनवरी को अयोध्या में भगवान श्री राम विराजमान होंगे तो वंही प्रधानमंत्री ने देश की जनता से उस दिन दीपोत्सव मनाने का आग्रह किया है, उसी को लेकर जमशेदपुर के कुम्हार भी इसकी तैयारियों में जुट गए है, इस बार खास यह है कि मिट्टी के दिये जे साथ साथ मिट्टी के दियों पर रंग कर उस पर जै श्री राम लिखा जा रहा है जो अपने आप मे आकर्षण कर रहा है, जै श्री राम लिखा हुआ मिट्टी के दियों की मांग बढ़ गई है, जिससे कुम्हार के चेहरे भी खिल उठे हैं, इतना ही नहीं बल्कि कुम्हार अपने पूरे परिवार के साथ मिल कर रंगीन मिट्टी के दिये बनाने में जुट गए है, और इस दीपोत्सव को बड़े ही धूम धाम से मनाने में अपनी भागीदारी सुनिश्चित कर रहे हैं,

इतना ही नहीं बल्कि कुम्हारों का मानना है कि जै श्री राम लिखे हुए इस दियों से लोग अपने घरों को सजायेंगे तो भगवान श्री राम भी काफी खुस होंगे और अपने भक्तों पर अपनी कृपा बरसाएंगे, कुम्हारों का साफ कहना है कि इस जै श्री राम लिखा हुआ दियों को लोग काफी पसंद कर रहे है और इन्ही दियों में 22 जनवरी को दीपोत्सव मनाने से भगवान श्री राम सभी के घरों में पधारेंगे यह कुम्हारों का मानना है।

जमशेदपुर शहर के कुम्हारों का यह भी मानना है कि जै श्री राम लिखे इन दियों से वे लोग भी सभी भक्तों के घरों तक भगवान श्री राम को पहुंचाने का काम कर रहे है, इन दियों को बना कर शहर के कुम्हार काफी खुश नजर आ रहे है।

वही इस दिए को देखकर शहर के आम लोग भी काफी आकर्षित हो रहे हैं, लोग जय श्री राम लिखे हुए दिए की खरीदारी कर रहे हैं और अन्य लोगों से भी अपील कर रहे हैं कि बड़ी संख्या शहर के में लोग की खरीदारी करें, और श्री राम के आगमन के स्वागत को लेकर जमशेदपुर के हर एक घर में मिट्टी के दिए जले, लोगों का कहना है कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी भी अपील किए हैं 22 जनवरी को हर घर दिया चलना चाहिए, और जब श्री राम का आगमन हो रहा है, तो पूरा जमशेदपुर शहर दिया की रोशनी में जगमग होगा, और दीपावली लोग मानेंगे, इसको लेकर इस कुम्हार परिवार ने भी श्री राम के नाम से अपने दिए को और भी खूबसूरत बना दिया है, शहर के लोगों ने इस परिवार की मेहनत को सलाम करते हुए ज्यादा से ज्यादा दिया खरीद इस परिवार को मजबूत करने की अपील शहर के अन्य लोगों से की है, इस बार जमशेदपुर के हर घर में श्री राम के नाम से दिए शहर की खूबसूरती को बढ़ाएंगे l

गणतंत्र दिवस के मौके पर जिलास्तरीय झंडोत्तोलन समारोह की तैयारी को लेकर गुरुवार को समाहरणालय सभागार में बैठक आयोजित हुई. इसकी अध्यक्षता उपायुक्त मंजूनाथ भजन्त्री ने की. इसमें प्रमुख अधिकारियों और कारपोरेट कंपनियों के पदाधिकारी मौजूद थे. सभी को उनकी जिम्मेदारियां बांटी गई. उपायुक्त ने कहा कि प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी गणतंत्र दिवस का मुख्य समारोह स्थानीय गोपाल में आयोजित किया जाएगा. जहां मुख्य अतिथि सुबह 9.05 बजे झंडोतोलन करेंगे. परेड और झांकियों के प्रदर्शन को लेकर उन्होंने सभी आवश्यक तैयारियों को ससमय पूर्ण करने के निर्देश दिये. साथ ही झांकियों को आकर्षण रूप देने की बात कही. बेहतर प्रदर्शन करने वालों को सम्मानित किया जायेगा. शाम में सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित होंगे.

झारखंड राज्य के जनक दिशोम गुरु शिबू सोरेन के जयंती और पूर्व सांसद स्वर्गीय सुनील महतो की जयंती के उपलक्ष पर वर्मा माइंस क्लब हाउस में रक्तदान शिविर आयोजित किया गया जिसमें पार्टी के नेताओं ने शिरकत कर स्वर्गीय सुनील महतो को भाव भीनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए रक्तदान किया

दिशोम गुरु शिबू सोरेन और पूर्व सांसद स्वर्गीय सुनील महतो की जयंती के उपलक्ष पर पूरे राज्य में कई कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं इसी क्रम में बर्मा माइंस स्थित क्लब हाउस में रक्तदान शिविर आयोजित किया गया जिसमें पार्टी कार्यकर्ताओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया, इस कार्यक्रम में पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व से लेकर जिला के पदाधिकारी ने सर्वप्रथम स्वर्गीय पूर्व सांसद सुनील महतो की तस्वीर पर पुष्प अर्पित करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की और रक्तदान कर मानव सेवा किया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!