बिरसानगर के रहने वाले बैडमिंटन खिलाड़ी प्रशांत सिन्हा की हत्या का खुलासा।

बिरसानगर के रहने वाले बैडमिंटन खिलाड़ी प्रशांत सिन्हा की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। 20 लख रुपए के लेनदेन में यह हत्या हुई थी। इस मामले में 22 मार्च को बिरसानगर थाने में अपहरण का केस दर्ज हुआ था। एसएसपी ने रविवार को एसएसपी ऑफिस में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि इस मामले में प्रशांत सिन्हा की हजारीबाग के लोहसिंहना थाना क्षेत्र के न्यू एरिया निर्मल स्कूल गली के पास रहने वाली महिला मित्र काजल सुमन और उसके दोस्त रौनक को गिरफ्तार किया गया है। इन दोनों ने हजारीबाग से आकर बिरसानगर से प्रशांत सिन्हा को हजारीबाग ले जाकर वहां हत्या कर दी थी। हत्या की घटना रौनक के खटाल पर की गई थी। हत्या के बाद शव बोरी में भरकर छेड़वा डैम के पास फेंक दिया गया था। एसएसपी ने बताया कि प्रशांत सिन्हा और काजल सुमन की फेसबुक के जरिए दोस्ती हुई थी। बाद में दोनों में गहरी दोस्ती हो गई। प्रशांत सिन्हा ने कई लोगों से उधार पैसे लिए और काजल सुमन को दिए थे। काजल सुमन ने भी सीधे लोगों से पैसे लिए थे। प्रशांत सिन्हा यह पैसे मांगने लगे थे। इसी को लेकर विवाद शुरू हुआ। इसी के बाद इन दोनों ने प्रशांत सिन्हा की हत्या की योजना बनाई थी। पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त स्कूटी और प्रशांत सिन्हा की कलाई घड़ी बरामद कर ली है। पुलिस ने लिखा पढ़ी करने के बाद दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया है।

सरायकेला

आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर झारखंड बीजेपी पूरे लय में है.

महागठबंधन जहां अबतक यह तय कर पाने में विफल रही है कि कितने सीटों पर कौन कहां से चुनाव लड़ेगा वहीं बीजेपी ने न केवल प्रत्याशी घोषित कर दिए हैं बल्कि प्रत्याशियों के जीत की रणनीति बनाने में भी जुट गई है. बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी खुद पूरे प्रदेश में घूम-घूम कर प्रत्याशियों के जीत की रूपरेखा तय कर रहे हैं शनिवार से मरांडी कोल्हान दौरे पर हैं. शनिवार को जहां बाबूलाल मरांडी ने जमशेदपुर लोकसभा सीट से प्रत्याशी विद्युत वरण महतो के जीत को लेकर कार्यकर्ताओं के साथ राजकुमारी करते हुए उन्हें जरूरी टिप्स दिए वहीं रविवार को बाबूलाल मरांडी सरायकेला पहुंचे. जहां बीजेपी कार्यालय में सरायकेला विधानसभा स्तरीय कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की. इसमें भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा, पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा सहित भाजपा के तमाम नेता एवं कार्यकर्ता मौजूद रहे. वही मीडिया को संबोधित करते हुए बाबूलाल मरांडी ने बताया कि झारखंड के सभी 14 लोकसभा सीटों पर एनडीए की जीत होगी. महागठबंधन के पास कोई ऐसा चेहरा नहीं है जो एनडीए के उम्मीदवारों का मुकाबला कर सके. पार्टी का एक- एक कार्यकर्ता अपने प्रत्याशियों को जीत दिलाने के लिए कमर कर चुका है. वही सरयू राय के खिलाफ धनबाद के गैंगस्टर प्रिंस खान का धमकी भरा ऑडियो वायरल होने के सवाल पर बाबूलाल मरांडी ने इसे विपक्ष का एक चुनावी हथकंडा बताया. उन्होंने भी इस पूरे मामले की जांच करने की मांग की है. उन्होंने कहा कि ढुल्लू महतो को प्रत्याशी बनाए जाने के बाद कुछ लोगों को तकलीफ हो रही है. ढुल्लू महतो या पार्टी के किसी भी नेता या कार्यकर्ता के साथ गैंगस्टर प्रिंस खान का कोई संबंध नहीं है. इधर सिंघम लोकसभा सीट से प्रत्याशी गीता कोड़ा ने बताया कि कार्यकर्ताओं का उन्हें अपार समर्थन मिल रहा है. इस बार भी सिंहभूम सीट पर जीत दर्ज होगी इसके लिए कार्यकर्ता पूरी तरह से तैयार हैं

*मतदाता जागरूकता के लिए ई-रिक्शा रैली

चाईबासा : स्वीप कार्यक्रम के तहत चाईबासा सदर अनुमंडल कार्यालय परिसर से लोकसभा चुनाव के लिए मतदाता जागरूकता हेतु ई-रिक्शा (टोटो) रैली का आयोजन किया गया। स्वीप नोडल पदाधिकारी सह अनुमंडल पदाधिकारी अनिमेष रंजन ने सभी टोटो संचालकों को मतदाता जागरूकता की शपथ दिलायी। स्वीप नोडल पदाधिकारी और प्रभारी पदाधिकारी स्वीप कोषांग ईशा खंडेलवाल द्वारा संयुक्त रूप से हरी झंडी दिखाकर टोटो रैली को रवाना किया गया। सभी टोटो को मतदाता जागरूकता से संबंधित पोस्टर से सुसज्जित किया गया है। सभी टोटो शहर में घूम-घूम कर मतदाताओं को मतदान दिवस 13 मई को मतदान करने हेतु जागरूक करेंगे।

जमशेदपुर में ईसाई समुदाय ईस्टर का पर्व काफी हर्षोल्लास के साथ मना रहा है.

इसे ईस्टर संडे भी कहते हैं. गुड फ्राइडे के तीसरे दिन मनाया जाने वाला यह फेस्टिवल है. माना जाता है कि प्रभु यीशु को सूली पर चढ़ाए जाने के तीन दिन बाद वह पुनर्जीवित हो गए थे. ईस्टर संडे ईसाई धर्म के अनुयायियों के लिए बेहद खास होता है. गुड फ्राइडे के तीन दिन बाद ईसाई धर्म के लोग ईस्टर संडे का पर्व मनाते हैं. गुड फ्राइडे ईसा मसीह के बलिदान व त्याग से जुड़ा दिन है. इस दिन लोग ईसा मसीह के बलिदान को याद करते हैं. वहीं गुड फ्राइडे के तीसरे दिन यानी रविवार को ईसा मसीह दोबारा जीवित हुए थे, इसलिए ईसा मसीह के जीवित होने की खुशी में ईस्टर संडे का पर्व मनाया जाता है. ऐसा कहा जाता है कि पुनर्जीवित होने के बाद यानी ईस्टर संडे के बाद 40 दिन तक ईसा मसीह पृथ्वी पर रहे और अपने शिष्यों को प्रेम और करुणा का पाठ पढ़ाया. ईसाई समुदाय के लोग ईस्टर संडे के मौके पर परिवार और दोस्तों के साथ मिलकर चर्च में जुटते हैं और इस दिन का जश्न मनाते हैं. बता दें, कि गुड फ्राइडे के दिन ईसा मसीह को सूली पर चढ़ाया गया था. ऐसे में उनके अनुयायियों के बीच उदासी की लहर छा गई थी, लेकिन हुआ ये कि तीसरे दिन बाद यीशु पुनर्जीवित हो उठे, और तभी से उनके अनुयायी इस दिन को खुशी के पर्व के रूप में मनाने लगे. मान्यता है कि ईस्टर के 40 दिन तक ईसा मसीह धरती पर रहे, और बाद में स्वर्ग को चले गए. यही वजह है कि इस फेस्टिवल को 40 दिनों तक मनाने की परंपरा है. इस दौरान लोग चर्च में जाकर प्रेयर करते हैं, और यीशु के जीवन और शिक्षाओं पर बातचीत करते हैं. घरों में तरह- तरह के पकवान बनते हैं, और लोग पवित्र आत्मा के आगमन का जश्न मानते हैं

जनता का समस्या का समाधान करने कोशिश किये.. श्री प्रहलाद लोहरा

पूर्वी विधानसभा जमशेदपुर*

आज बर्मामाइंस आश्रम बस्ती में जाकर जनता से मिलकर बस्ती के कुछ कुछ समस्या सुने और तत्काल जमशेदपुर नोटिफाई एरिया के सिटी मैनेजर फोन से बात कर विभिन्न समस्याओं को अवगत कराया और जल्द से जल्द समाधान निकालने के लिए अपनी बातों को रखें जिसमें से बस्ती के मुखिया राम कर्मकार शिबू दादा समल नायक डेविड कुमार एवं बस्ती के बुजुर्ग एवं युवा साथी शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!