गुठखा का कारोबार पड़ा महंगा, जाना था मलेशिया जानी पडी जेल

चाईबासा शहर में अवैध रूप से गुटखा का कारोबार करने के आरोप में धरायें तीन गुटखा व्यपारी को भेजा गया जेल, गोदान हुआ शील

चाईबास्। प्रतिबंध के बावजुद शहर में बृहत पैमाने पर अवैध रूप से गुटखा,पान मसाला व बिड़ी सिगरेट बेचने के आरोप शहर से हुए गिरफ्तार गुटखा खोर व्यापारियों को चाईबासा सदर पुलिस द्वारा जेल भेज दिया गया।हलांकि इस काले कारोबार में पुलिस और भी गुटखा खोर व्यापारियों को पकड़ने के लिए छापामारी अभियान जारी रखा है,वहीं पुलिस को सुचना भी मिली है कि बड़े पैमाने पर गोदाम में गुटखा, सिगरेट आदी नशापान समाग्री रखा गया है जिसकी जांच चल रही है।ज्ञात हो कि शनिवार को सरकार के द्वारा प्रतिबंध लगाने के बाबजुद शहर व शहर के आस पास धड़ल्ले से गुटखा और सिगरेट बेचने का काला कारोबार चल रहा था।इसी सुचना के बाद सदर एसडीओ शशींद्र बराइक व एसडीपीओ अमर कुमार पाण्डेय के द्वारा संयुक्त रूप से गुटखा विक्रेताओं के ठिकानों पर छापामारी किया गया था।इसी छापेमारी में पुलिस रिकार्ड में फरार चल रहें गुटखा विक्रेता शंभु चौधरी दुसरी बार भागने में सफल रहा।हलांकि शंभु चौधरी के दुकान चाईबासा पुलिस द्वारा शील कर दी है।वहीं गमनोज गुप्ता मंगलाहाट परिसर , सदर बाजार राजा बाडी गल्ली स्थित जयमंगला स्टोर के मालिक सुरज कुमार राम, गुरूद्वारा रोड़ स्थित नव निर्मत फ्लैट के निवासी गुडू तिवारी उर्फ अजय तिवारी को गुटखा के साथ मौके पर ही गिरफ्तार किया गया था।साथ ही गुटखा,सिगरेट आदी भी बरामद किया गया था। पुलिस रिकॉर्ड से भगोड़ा युरोपियन क्वार्टर पुलिस लाईन मार्ग निवासी सफेद पोश गुटखा तस्कर शंभु चौधरी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस संभावित ठिकानों पर कर रही है छापामारी।जानकारी के मुताबिक शंभु चौधरी, सुरज कुमार राम के अलावा जेल रेड निवासी व गांधी टोला निवासी तथा कपड़ा पट्टी स्थित एक गुटखा के अवैध तस्कर के कई अन्य गोदामों में लाखों के गुटखा छुपाकर रखें जानें भी सुचना मिली है। जेल गये तीनों आरोपी में एक गुटखा विक्रेता को विदेश टुर पर मलेशिया भेजने के तैयारी थी बैंकाक।लेकिन जाना था जापान पहुंच गये चीन।

किया था मामला

सदर अनुमंडल पदाधिकारी शशींद्र कुमार बड़ाइक व सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अमर कुमार पांडेय के संयुक्त नेतृत्व में शनिवार को चाईबासा शहर में प्रतिबंधित गुटखा, खैनी, सिगरेट की दुकानों में छापामारी की गई। छापामारी से शहर में हड़कंप मच गया। कई दुकानदारों ने छापामारी की खबर सुनते ही अपने-अपने शटर गिरा दिये और दिन भर दुकान बंद कर रखी। इस दौरान गुरुद्वारा रोड स्थित गुड्डू तिवारी की दुकान से भारी मात्रा में गुटखा, खैनी व सिगरेट के पैकेट बरामद किये गए। इसी तरह पुलिस लाइन रोड में शंभू चौधरी व राजाबाड़ी गली जय मंगला स्टोर से भी गुटखा, खैनी व सिगरेट के पैकेट बरामद कर जब्त किये गए। इस दौरान गुड्डू तिवारी, सूरज कुमार राम व एक अन्य को गिरफ्तार कर सदर थाना में रखा गया है। बताया गया की बड़ीबाजार, सदर बाजार, बस स्टैंड, तांबों चौक, महुलसाई व अन्य स्थानों में जहां-जहां संदिग्ध दुकानों की गुटखा बेचे जाने की जानकारी मिली थी।

झारखंड में है प्रतिबंध लेकिन ओड़िसा और बंगाल से आती है गुटखा

राज्य सरकार द्वारा भले ही झारखंड राज्य में गुटखा पर प्रतिबंध लगा दिया हो लेकिन गुटखा बेचमे वाले बड़े कारोबारियों द्वारा ओड़िशा और बंगाल से बड़े खेप में गुटखा सागरेट अदी लाने का कारोबार करते है और यहां से शहर के बिभिन्न क्षेत्रों सफ्लाई कि जाती है।जबकी लॉक डाउन में भी पांच रूपये का गुटखा दस से बीस रूपया में बिकती थी और आज भी दस रूपये और आठ रूपये में बिक रही है गुटखा।

किया कहते है थाना प्रभारी

इस सबंध में पुछे जाने पर सदर थाना प्रभारी निरंजन तिवारी द्वारा बताया कि गुटखा बेचने के आरोप में पकड़े गये तीनों गुटखा विक्रेताओं को न्यायलय के समक्ष प्रस्तुत कर दी गई है जहां तीनों को जेल भेज जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!