ढाई घंटे तक चली चाईबासा नगर परिषद बोर्ड की बैठक,19 प्रस्तावों पर हुई चर्चा

वाबार्ड पार्षदों ने भी अपने अपने वार्डो का लिए नई योजनाओं की सहमती के लिए रखी मांगें

15 वें वित्त से किन किन योजनाओं को ली जायेगी इस हुई बैठक

चाईबासा। शुक्रवार को नगर परिषद क्षेत्र में नये योजना को लेने तथा पुरानी योजना जो वर्ष 2020 में पूर्ण नहीं हो पाई है उनसभी योजनाओं चाईबासा नगर परिषद के उपाध्यक्ष सह कार्यकारी अध्यक्ष डोमा मिंज के अध्यक्षता में बैठक संपन्न हुई। इस बैठक में सभी वार्द पार्षद तथा नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी अभय कुमार झा मौजूद थे।नगर परिषद बोर्ड कि बैठक करीब ढाई घंटे तक चली और इस ढाई घंटे की बैठक में यह निर्णय लिया गया कि जो योजना वर्ष 2020 में लिए गए थे और विवाद अथवा अन्य कारणों से निर्माण कार्य शुरु नहीं हो पाया वैसे सभी योजना को रद्व करने का निर्णय लिया गया। साथ ही अब 15 वें वित्त के राशी से वैसे ही योजना लेने पर सहमती बनी जो सरकार के द्वारा योजना संचालित है।अब मार्केट कंप्लेक्स नहीं बनेगें।अब तालाब आदी निर्माण कार्य को लिया जायेगा।वहीं वार्ड पार्पदों द्वारा भी अपने अपने क्षेत्र का विकास के लिए नई योजना का प्रस्ताव दिया गया है।नगर परिषद बोर्ड की ढाई घंटे तक चली बैठक में सर्वप्रथम उपाध्या – सह – कार्यकारी अध्यक्ष महोदर के अनुमति से कार्यशालक पदाधिकारी द्वारा बैठक में उपस्थित सनी वार्ड पार्षद पदाधिकारी एवं कर्मचारी , परामर्शी एवं मिडिया के सदस्यों का बैठक में स्वागत किया गया।

इन योजनाओं पर बनी सहमती

ईईएसएल एजेंसी के प्रतिनिधि को 300 अतिरिक्त एलईडी लाईट अविलम्ब लगाने का निर्देश दिया गया, चाईबासा शहरी जलापूर्ति योजना के तहत शहर के हर एक गली में पाईप लाईन बिछाया जायेगा,इससे संबंधित शिकायत वार्ड के पार्षद एजेंसी के प्रतिनिधि को कर सकते हैं । – कार्यालय योजना संख्या 05 / 2020-21 के वैसे योजना जो शहरी जलापूर्ति के मेन पाईप लाईन के क्षेत्र में आता है वैसे क्षेत्र में पी.एचईडी विभाग को अविलम कार्य कराने हेतु पी एच.ई.डी के कनीय अनियता को निर्देश दिया गया साथ ही योजना का अगर कार्यादेश निर्गत कर दिया गया है तो उस योजना में पूर्णता अवधि को विस्तार कर दिन करने का निर्णय लिया गया,ठोस अपशिष्ट प्रबंधन योजना के एजेंसी को टीपिंग फी लंबित होने एवं भुगतान के संबंध में उपाध्यक्ष – सह – कार्यकारी अध्यक्ष के अध्यक्षता में पदाधिकारी के साथ संयुक्त टीम गठन कर विभागीय मंत्री एवं पदाधिकारी से मुलाकात कर इस पर विचार करने का निर्णय लिया गया। डम्पर प्लेसर का अविलम्ब मरम्मति करने का निर्णय लिया गया, निकाय द्वारा सड़क कालीकरण हेतु निकाले गये निविदा दो बार असफल हो जाने के कारण उक्त निविदा के सभी सड़क को संयुक्त रूप से एक योजना तैयार कर विभाग द्वारा 7.5 करने का निर्णय लिया गया । इसके लिए अभियंतागण अविलम्ब प्राकलन तैयार कर तकनीकी , प्रशासनिक स्वीकृति प्राप्त करेंगे, नवनिर्मित रेलवे ऑदर ब्रिज के पास पार्किंग व्यवस्था कराने का निर्णय लिया गया साथ ही वार्ड न ०4 के वार्ड पार्षद द्वारा उक्त क्षेत्र में बेरोजगार अनुसूचित जाति के महिलाओं को स्वरोजगार के लिए अस्थाई तौर पर स्थल मुहैया कराने का अनुरोध किया गया, पूर्व में पीडब्लूडी विभाग द्वारा एवं अन्य क्षतिग्रस्त सड़क के मरम्मति हेतु अभियंताओं को निर्देश दिया गया , वर्ष 2020 के पूर्व के बसे सभी योजना जो विवाद अचवा अन्य किसी कारण से निर्माण कार्य प्रारंभ नहीं हो सका सनी को रद्द करने का निर्णय लिया गया, वार्ड न 18 में बिनोद आजाद के घर से संदीप साव के घर तक 248 नाली में स्लैब निर्माण कार्य का बल परिर्वतन करने का निर्णय लिया गया, किसी भी योजना के चयन हेतु संबंधित क्षेत्र के वार्ड पार्षद को इसकी जानकारी अवश्य दिये जाने का निर्णय लिया गया, मधुबाजार में बंडिंग जोन एवं किनारे दुकान निर्माण कराने हेतु 15 वे वित्त आयोग को प्रस्ताव भेजने का निर्णय लिया, सरकारी बस स्टैंड के बन्दोवस्ती असफल होने के कारण प्राप्त दो आवेदन के आलोक में दोनों आवेदकों में जो अधिक राशि देते हैं उन्हें दिये जाने का निर्णय लिया गया । अगर किसी आवेदक का बकाया हो तो दन्दोवस्ती देने से पूर्व बकाया राशि जमा करना अनिवार्य होगा, नवनिर्मित कार्यालय भवन का ग्राउड फ्लोर किराया में देने हेतु सामाचार पत्र में विज्ञापन निकालने का निर्णय लिया गया । अगर किसी के द्वारा आवेदन प्राप्त हो तो उस पर विचार किया जा सकता है, 15 वें वित्त आयोग के तहत् निर्धारित राशि के विरुद्ध पापी द्वारा प्रस्तावित योजनाओं को स्वीकृति दी गई, वार्ड नं ० 05 में जोड़ा तालाब के पुलिया के पास कल्वर्ट निर्माण का निर्णय लिया गया, वार्ड नं ० 05 के पार्षद द्वारा उनके वार्ड में पुस्तकाल निर्माण के प्रस्ताव को सर्वसम्मति से स्वीकृति दी गई, अभियंताओं द्वारा तैयार किये जाने वाले प्राक्कलन में योजना के नाम , लम्बाई , चौड़ाई एवं गुणवत्ता में कमी अथवा त्रुटि होने पर इसकी पूर्ण जबावदेही कनीय अभियंता एवं सहायक अभियंता की होगी । अन्त में धन्यवाद ज्ञापन के साथ बैठक की कार्यवाही समाप्त की गई ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!