78 वर्षीय अजय गोराई नामक बुजुर्ग का शव कटहल के पेड़ से झूलता पाया गया,फैली सनसनी

सरायकेला जिले के गम्हरिया थाना अंतर्गत उज्वलपुर में 78 वर्षीय अजय गोराई नामक बुजुर्ग का शव कटहल के पेड़ से झूलता पाया गया, जिसके बाद इलाके में सनसनी फैल गयी. मृतक के जेब से एक सुसाइड नोट और जहर की शीशी मिली है. सुसाइडल नोट में लिखा गया है कि मेरी आत्महत्या के पीछे गांव वालों का कोई दोष नहीं है. उधर घटना की सूचना मिलते ही गम्हरिया थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सरायकेला भेज दिया. हालांकि परिजनों ने बुजुर्ग की मौत को संदिग्ध बताया और हत्या की आशंका जतायी. पुत्र नंद किशोर गोराई ने बताया, कि गांव में चार दिन पूर्व जाहेर थान को लेकर बैठक हुई थी. जहां ग्रामीणों के बुजुर्ग को जबरन हस्तक्षर के लिए दबाव बनाया था, लेकिन उन्होंने इंकार कर दिया था. इसपर ग्रामीणों साथ कहासुनी हुई थी.

पुत्र ने बताया कि ग्रामीणों ने उन्हें देख लेने की धमकी दी थी. शुक्रवार शाम वे शौच के लिए निकले थे, देर शाम तक जब वे वापस नहीं लौटे तो खोजबीन शुरू की गई. देर रात तक गांव के आसपास खोज की गई लेकिन उनका कहीं कोई अता-पता नहीं चला. जिस जगह कटहल के पेड़ पर बुजुर्ग का शव पाया गया, उधर भी सुबह 5:00 बजे तक कई एक बार ढूंढा गया, लेकिन किसी तरह का कोई शव नहीं था, लेकिन अचानक  सुबह 7 बजे ग्रामीणों ने कटहल के पेड़ पर शव होने की जानकारी दी. शव का पैर जमीन तक सटा हुआ था और जमीन पर किसी तरह का कोई हलचल का निशान नहीं पाया गया. पुत्र नंदकिशोर गोराई ने सुसाइडल नोट में लिखे गए हैंडराइटिंग को पिता का मानने से इनकार करते हुए बताया, कि उनके पिता को पहले जहर देकर मार दिया गया उसके बाद गांव के कटहल पेड़ पर लाकर लटका दिया गया और सुसाइडल नोट लिखकर गुमराह करने का प्रयास किया गया है. वैसे गम्हरिया थाना पुलिस ने पुत्र की शिकायत पर अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!