सदर अस्पताल का निरीक्षण करने पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री को मृतक के परिजन ने सुनाया खरी-खोटी…..

राँची: राजधानी के सरकारी अस्पतालों की क्या स्थिति है ।उसकी पोल स्वास्थ्य मंत्री के सामने खुल गई। पहले हम आपको स्वास्थ्य मंत्री का वह बयान सुनाते हैं जब वह मंगलवार को रांची के सदर अस्पताल में कोविड वार्ड का निरीक्षण करने पहुचे थे। निरीक्षण के बाद स्वास्थ्य मंत्री ने इस विपरीत घड़ी में स्वास्थ्य विभाग सदैव तत्पर रहने की बात कही। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य व्यवस्था यहां सब कुछ सामान्य है। लेकिन उनके बयान के महज कुछ मिनटों के बाद जब वो सदर अस्पताल से बाहर निकल रहे थे तब सदर अस्पताल की दहलीज पर हजारीबाग के पवन गुप्ता का शव पड़ा हुआ था। पवन गुप्ता के परिजन बेहतर इलाज के लिए राँची आये थे लेकिन कई जगह भटकने के बाद जब वह सदर अस्पताल पहुंचे तो डॉक्टर के इंतजार में अस्पताल के दहलीज पर दम तोड़ दिया ।फिर क्या था मंत्री को देख मृतक की बेटी मंत्री पर बरस पड़ी। मृतक की बेटी ने चिल्ला चिल्ला कर मंत्री और मीडिया पर नाराजगी व्यक्त की ।उसने कहा क्या मंत्री जी उनके पिता को वापस ला सकते हैं। मंत्री जी सिर्फ वोट लेने के लिए बने हैं। जब राजधानी के अस्पतालों की ऐसी व्यवस्था है तो दूसरे जिलों का क्या होगा । इस घटना के बाद स्वास्थ्य मंत्री वहां से दबे पांव निकल लिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!